Connect with us

ट्रेंडिंग

शाहरुख खान ने सभी से क्राउडफंड करने और पीपीई किट व वेंटिलेटर के योगदान के साथ हेल्थकेयर रक्षकों का समर्थन करने के लिए किया आग्रह!

हाल ही में, अभिनेता ने पत्नी गौरी खान के साथ, कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए अपने चार-मंजिला व्यक्तिगत ऑफिस की भी पेशकश की है।

Published at

on

कई पहल की घोषणा करने और व्यापक रूप से योगदान देने के बाद, शाहरुख खान हर किसी से स्वास्थ्य सेवा के लिए आगे आने के लिए आग्रह कर रहे हैं, जो क्राउडफंडिंग के माध्यम से फ्रंटलाइन में कोविड-19 से लड़ रहे हैं और वर्कर्स तक पीपीई किट, वेंटिलेटर पहुंचाने में मदद करने की बात कही हैं।

एक वीडियो के जरिये संदेश साझा करते हुए, शाहरुख खान ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर पोस्ट करते हुए लिखा,”आइए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) और अन्य ज़रूरी चीज़ों का योगदान दे कर बहादुर स्वास्थ्य अधिकारियों और चिकित्सा टीमों का समर्थन करें जो कोरोनोवायरस के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व कर रहे हैं। छोटी सी मदद एक लंबा रास्ता तय कर सकती है।

@MeerFoundation

शाहरुख खान समय-समय पर समाज के विभिन्न वर्गों- प्रशासन, वर्कर्स और नागरिकों की मदद करने के लिए अपना समर्थन प्रदान कर रहे हैं।

शाहरुख खान की समूह कंपनियां कोलकाता नाइट राइडर्स, रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, मीर फाउंडेशन और रेड चिलीज वीएफएक्स ने कोविड-19 की लड़ाई में प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी जी और सरकार के प्रयासों का समर्थन करते हुए कई पहल की घोषणा की थी। अभिनेता ने महाराष्ट्र में फ्रंटलाइन मेडिकल स्टाफ के लिए 25,000 पीपीई किट भी प्रदान की है जो इस वक़्त राज्य में कोरोनावायरस महामारी को रोकने की लड़ाई लड़ रहे है।

हाल ही में, अभिनेता ने पत्नी गौरी खान के साथ, कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए अपने चार-मंजिला व्यक्तिगत ऑफिस की भी पेशकश की है।

इन अविश्वसनीय और नेक पहल के साथ, शाहरुख खान हर किसी की मदद करते रहे है। सरकारी कोष से ले कर 50,000 पीपीई किट, मुंबई के 5500 परिवारों की खाद्य आवश्यकताओं, अस्पतालों में 2000 पका हुआ भोजन, 10,000 लोगों के लिए 3 लाख भोजन किट, दिल्ली में 2500 दिहाड़ी मजदूरों के लिए किराने और 100 एसिड सर्वाइवर को आर्थिक मदद प्रदान करने तक, उनकी पहल का उद्देश्य सोसाइटी के विभिन्न लोगों तक पहुंचना है।

उनके संदेश को यहाँ देखें और योगदान करें-

 

ट्रेंडिंग

प्यार की लुका चुप्पी: क्या अंगद को सृष्टि से अपने जन्मदिन पर अपने प्रस्ताव का जवाब मिलेगा?

एक साल की लीप के बाद सार्थक जिसने सृष्टि से रिश्ता तोडा था अब वह उसके परिवर्तन से मंत्रमुग्ध है और अपने निर्णय परपश्चाताप कर रहा है

Published at

on

प्यार की लूका चुप्पी का ट्रैक, ना सिर्फ पहला ऐसा शो है जो नए एपिसोड के साथ प्रसारित हुआ है, बल्किएक दिलचस्प स्थिति में आ गया है। हालांकि सृष्टि (अपर्णा दीक्षित) अपने ज़िन्दगी में आगे बढ़ चुकी हैं और अपने करियर पर केंद्रितहैं, सार्थक (राहुल शर्मा) खुद को कश्मकश में पता है। शो में अंगद (एलन कपूर) के एंट्री ने सार्थक को और अधिक असहज बना दियाहै। इसके अलावा अंगद ने सृष्टि के प्रति अपने भावनाओं को विकसित किया है और बहुत चिंतन के बाद उसका प्यार ज़ाहिर कियाहै। हालांकि, सृष्टि से स्पष्ट उत्तर प्राप्त नहीं कर पाता है। अंगद का जन्मदिन है और सृष्टि को भी आमंत्रित किया जाता है। अंगदअपने सभी करीबी लोगो के साथ शाम का इंतजार कर रहा है और सृष्टि से जवाब मिलने की उम्मीद भी करता है।

क्या सृष्टि निर्णय ले पाएगी और क्या अंगद उसकी बातों को सुनकर खुश होगा?

अधिक जानने के लिए 7:00 बजे दंगल टीवी पर प्यार की लूका चुप्पी ज़रूर देखें |

दंगल टीवी सभी प्रमुख केबल नेटवर्क और डीटीएच प्लेटफॉर्म –DD फ्री डिश (CHN NO 27), Tata Sky (CHN NO 177), Airtel (CHN NO 133), डिश टीवी (CHN NO 119) और Videocon D2H (CHN NO) में उपलब्ध है। 106)।

इस तरह की ख़बरों के लिए सिने ब्लिट्ज के साथ बनें रहें https://cineblitz.in/hi/

Continue Reading

ट्रेंडिंग

ब्रेकिंग न्यूज – नए धारावाहिकों की शूटिंग का रास्ता हुआ साफ

एफडब्ल्यूआईसीई आईएफटीपीसी और सिंटा और की बैठक में फिल्म और टीवी शूटिंग जल्द शुरू करने पर सहमति बनी

Published at

on

कर्मचारियों के लिए बीमा ,भुगतान अवधि में कटौती और कोविड 19 को लेकर दिशा निर्देश पालन करने पर आईएफटीपीसी सहमत

मुंबई ,एफडब्ल्यूआईसीई,आईएफटीपीसी और सिंटा  की एक बैठक आयोजित कर फिल्म और टीवी सीरियल की शूटिंग से संबंधित समस्याओं पर विचार किया गया और जल्द से जल्द शूटिंग शुरू करने पर सहमति हुई। इन तीनों संस्थाओं की बुधवार को वर्चुअल मीटिंग बुलाई गई थी। इस बैठक में आईएफटीपीसी ने फिल्म और टीवी निर्माण से जुड़े कर्मचारियों के लिए दो तरह की बीमा मुहैया करवाने पर सहमति व्यक्त की। इसमें कोविड 19 से मौत की स्थिति में 25 लाख रुपए और अस्पताल में इलाज के लिए 2 लाख रूपये बीमा का समावेश होगा। इसके आलावा आईएफटीपीसी ने आश्वासन दिया कि शूटिंग के दौरान कोविड 19 के संक्रमण को रोकने के लिए जो दिशा निर्देश सरकार ने दिए उसका पूरी तरह से पालन किया जाएगा। इसी के साथ कर्मचारियों के भुगतान की समय सीमा को 90 दिन से कम करके 30 दिन किए जाने पर सहमति हुई। बैठक के दौरान आपसी सहमति से सभी समस्याओं को सुलझाने पर सहमति बनी ताकि जल्द से जल्द शूटिंग शुरू हो सके।

बैठक में आईएफटीपीसी ने सिंटा और  एफडब्ल्यूआईसीई के योगदान की सराहना की और फिल्म और टीवी निर्माण से जुड़े कलाकारों,कर्मचारियों के हित के लिए किये गए कार्यों को याद किया। बैठक के बाद घोषणा की गई कि जल्द से जल्द फिल्म और टीवी सीरियल्स की शूटिंग शुरू होगी जिससे लोग अपने – अपने घरों में नए धारावाहिको का आनंद ले सकेंगे। बैठक में  आईएफटीपीसी के प्रेसिडेंट साजिद नाडियाडवाला ,सिंटा और एफडब्ल्यूआईसीई ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे,सांस्कृतिक मामलों के मंत्री अमित देशमुख ,सांस्कृतिक मामलों के सचिव डॉ संजय मुखर्जी और आदेश बांदेकर का उनके सहयोग के लिए आभार प्रकट किया गया। बैठक में एफडब्ल्यूआईसीई के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी,जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे, ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव,

टीवी और वेब के चेयरमैन जेडी मजीठिया , आईएफटीपीसी के नितिन वैद्य ,श्यामाशीष भट्टाचार्य और सिंटा के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट मनोज जोशी,वाइस प्रेसिडेंट दर्शन जरीवाला ,सीनियर जॉइन्ट सेक्रेटरी अमित बहल और कार्यकारी समिति के सदस्य संजय भाटिया आदि उपस्थित रहे। इस बैठक में यह तय किया गया कि तीन महीने बाद फिर से पूरी स्थिति की समीक्षा की जाएगी और अगर किसी कंडीशन में बदलाव की जरूरत हुई तो आपसी सहमति से उसपर विचार किया जाएगा।

Let us know in the comment section below and stay tuned to CineBLitz for updates on this front as well as other Bollywood news. https://cineblitz.in/

Continue Reading

ट्रेंडिंग

अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी का कहना है कि “सफलता कभी भी खुशी की गारंटी नहीं होती”

अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने अवसाद के बारे में बात की और जोर दिया कि अपने अंदर एक लड़ाई की भावना होना महत्वपूर्ण है।

Published at

on

अभिनेता सुशांत सिंह की आकस्मिक मृत्यु ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। बॉलीवुड कलाकार इस अपूरणीय क्षति पर शोक मना रहे हैं। एक प्रमुख प्रकाशन से बात करते हुए, अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने अवसाद के बारे में बात की और जोर दिया कि अपने अंदर एक लड़ाई की भावना होना महत्वपूर्ण है।

“मेरे पास हमेशा अपने आप से लड़ने की भावना थी और हमेशा रहेगी। मैं खुद को एक श्रमिक से अधिक नहीं मानता। मैं इंडस्ट्री में एक बहुत बड़ा सुपरस्टार बनने का सपना लेकर नहीं आया था। इस तरह के बड़े सपने देखना बेकार है क्योंकि जैसे ही आपको निराशा मिलती है, यह अवसाद की ओर धकेल देता है। लगभग 10 वर्षों के लिए, मैं सिर्फ इस उद्योग में जीवित रहना चाहता था। हालांकि, कई बार मुझे अवसाद का सामना करना पड़ा, लेकिन मैं एक फिल्म में एक भी सीन करने के लिए खुश हुआ करता था। अपनी पूरी यात्रा में चलते रहना महत्वपूर्ण है। सफलता खुशी की गारंटी नहीं देती है, अगर आज ऐसा होता तो सबसे सफल लोग सबसे ज्यादा खुश होते। ”

“मेरे पास लगभग डेढ़ साल तक कोई पैसा नहीं था, मैं अपने दोस्त के घर भोजन करता था और शहर में घंटों घूमता था। पर्याप्त भोजन न मिलने के कारण मेरा शरीर सिकुड़ गया और बाल भी झड़ गए। मैं सुबह 7 बजे के आसपास अपना घर छोड़ देता था और घंटों ट्रैफिक और इमारतों को टकटकी लगाकर सोचता था कि मैं जल्द ही मर जाऊंगा और फिर ये सब नहीं देख पाऊंगा। मुझे लगता था की मैं सबसे अलग हूँ पर अब मैं  भगवान का शुक्रिया अदा करता हूँ की उन्होंने मुझे बचा लिया ।

इस तरह की ख़बरों के लिए सिने ब्लिट्ज के साथ बनें रहें https://cineblitz.in/hi/

Continue Reading

Trending

>