Connect with us
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

न्यूज़ और गॉसिप

50 के हुए अभिनेता मनोज बाजपेयी

अभिनेता मनोज बाजपेयी को उनके 50वें जन्मदिन पर सिने ब्लिट्ज की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं

Published

on

मनोज बाजपेयी हिंदी फिल्मों के मशहूर अभिनेताओं में से एक हैं। हिंदी सिनेमा में अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके मनोज बाजपेयी को अपनी फिल्मों से सम्बंधित बहुत से लोकप्रिय अवार्ड भी मिल चुके हैं। मनोज बाजपेयी एक ऐसे अभिनेताओं में से एक हैं जो फर्श से अर्श तक का रास्ता तय कर चुके है।

मनोज बाजपेयी का जन्म 13 अप्रैल 1979 को बिहार के पश्चिमी पंचारण के छोटे से गाँव बेलवा में हुआ। 6 भाई और बहनों में से बहन पूनम एक फैसन डीजाइनर हैं। मनोज अपनी प्रार्थमिक शिक्षा गाँव से प्राप्त करने के बाद वे आगे की पढाई के लिए दिल्ली चले गये, जहाँ उन्होंने सत्यवली कॉलेज, और रामजस कॉलेज, दिल्ली से अपनी इतिहास नाटक से स्नातक की पढाई पूरी की है। इससे पहले मनोज ने तीन साल दिल्ली के नैशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में अपने प्रवेश के लिए कोशिश की लेकिन इसमें वे नाकाम रहें , इसके बाद मनोज बैरी जॉन के छत्रछाया में आए, और यहाँ से वे रंग-मंच की दुनिया में अपना कदम रखना आरम्भ  कर दिए।

रंग-मंच की दुनिया के बावजूद मनोज दिल्ली की गलियों में नौकरी की तेलाश में घुमा करते थे लेकिन तमाम कोशिसोनों के बावजूद नाकाम रहें । वो कहते हैं ना हुनर किसी का मुहताज नहीं होता है। किसी महान इंसान ने सही ही कहा है “सत्य परेशान होता है पर पराजित नहीं” यह कहावत इन पर खूब जंचता है।

इन्होंने अपने करियर की शुरुआत दूरदर्शन पर प्रकशित होने वाले कार्यक्रम ‘स्वाभिमान ‘ के साथ शुरू किया थी । इनके फिल्मीं करियर की शुरुआत 1994 में द्रोहकाल नाम कि फिल्म से हुआ था। इस फिल्म में इनका किरदार बहुत बड़ा तो नहीं था लेकिन यह इनके लिए कुशी से भरा मौका माना जा सकता है।

अपने फिल्मीं करियर में अलग-अलग तरह की फिल्मों में अलग-अलग किरदार में दिखने वाले मनोज बाजपेयी की बहुत-सी ऐसी फिल्में हैं जिसमें उनके नकारात्मक किरदार को दिखाया गया है। हम आज उनके कुछ किरदार से आप को रूबरू कराते हैं, जिसमें उन्हों नकारात्मक किरदार में देखा गया है।

इनके मुख्य कैरेक्टर और फिल्मों
1. आरक्षण 2011 (मिथिलेश) :

यह फिल्म सामाजिक मुद्दों पर आधारित थी जुसमें इनके साथ मुक्य किरदार में शदी के महानायक अमिताभ बच्चन थे, और मनोज बाजपेयी का इनके विरुद्ध नकात्मक किरदार था। इस फिल्म और इनके किरदार को लोगों के द्वारा खूब पसंद किया गया थी ।

2. राजनीति 2010 (वीरेन्द्र प्रताप) :

वीरेन्द्र प्रताप नाम के इस किरदार के साथ अजय देवगन, अर्जुन रामपाल, नाना पाटेकर, रणबीर कपूर जैसे महान कलाकारों की जुगलबंदी के कारण फिल्म ने खूब धमाल मचाया था। यह फिल्म पूर्ण रूप से राजनितिक मुद्दों पर आधारित थीऔर हिट रही।

3. गैंग्स ऑफ वासेपुर 2012 ( शारदार खान ) :

यह फिल्म मनोज बाजपेयी के लिए सोने पर सुहागा माना जा सकता हैं। गैंगेस्टर के जीवन पर आधारित या फिल्म लोगों को क्या खूब पसंद आई थी । इस फिल्म में मनोज के साथ-साथ नवाज़ुदीन शिद्दिकी की जुगलबंदी क्या खूब शराही गयी थी।

4. सत्याग्रह 2013 (मिनिस्टर बलराम सिंह) :

यह फिल्म राजनितिक जद्दोजद पर आधारित थी जिसमें मनोज बाजपेयी मिनिस्टर बलराम सिंह के किरदार में अमिताभ बच्चन की गांधीवादी विचारधाराओं के खिलाफ रहा करते थे। इस फिल्म में इनका अभिनय क्या खूब जंच रहा था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
>