Connect with us
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

ट्रेंडिंग

फिल्म ‘गली गुलियां’ में दिखेगा मनोज बाजपेयी का एक नया अंदाज़

‘गली गुलियां’ में दिखेगा अभिनेता मनोज बाजपेयी का एक नया अंदाज़

Published

on

Manoj Bajpayee 3

ख़बरों के मुताबिक मनोज बाजपेयी की आगामी फिल्मगली गुलियां  हिंदी परदे पर देश्तक दे सकती है। बताया जा रहा है कि यह फिल्म मानसिक रूप से बीमार एक शख्स की है। इस फिल्म में मनोज उस बीमार शख्स की भूमिका निभानें  वाले हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि इस फिल्म के ज़रिए मांशिक  रूप सी बीमार लोगों के स्वस्थ की बात की गयी है।

हम आप को बता दें कि एक प्रतिष्ठित मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इन 15 सालो में 1,26,166 लोगों ने इस बीमारी से पीड़ित होकर आत्महत्याएं की हैं। यह भी बताया गया है कि 2001 की जनगडना के अनुसार 16.92 करोड़ लोग इस गंभीर बीमारी की गिरफ्त में हैं। इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि 99% लोग इस बीमारी का इलाज़ करानामुनाशिब नहीं समझते हैं।

रास्ट्रीय अपराध अनुसंधान संस्थान (एनसीआरबी) की एक रिपोर्ट के मुताबिक एक साल के दौरान भारत में 8,409 मानसिक और पैरालिसिस से पीड़ित लोगों ने आत्महत्या की है जिसमें महाराष्ट्र में 1,412 है, वहीँ 2001 से 2015 तक कुल 1,26,166 लोगों ने मानसिक बीमारी से पीड़ित होकर आत्महत्याएं की हैं। पश्चिम बंगाल में 13,932, मध्यप्रदेश में 7,029, उत्तर प्रदेश में 2,210, तमिलनाडु में 8,437, महाराष्ट्र में 19,601, क

र्नाटक में 9,554 आत्महत्याएं इस कारण हुईं है । 

अब हम फिल्म की तरफ आप का ध्यान केन्द्रित करते हुए बताना कहते हैं कि यह फिल्म एक ऐसे इंसान की है जो जीनिस रहता है और सामाजिक तौर पर उसकों उनकी प्रतिभा को न स्वीकार जानने  पर वह मानशिक तौर पर बीमार हो जाता  है।  

ऐसा माना जा रहा है कि यह फिल्म समाज में इस बीमारी के प्रति लोगों की जागरूकता को बढ़ाने के लिए बनाया जा रहा है। यह तो सत्य है कि आज हमारा समाज जीनियस को स्वीकार करना पसंद नहीं करती है। 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
>