Connect with us

ट्रेंडिंग

पुण्यतिथि विशेष: सुपर स्टारों का दिग्गज राजेश खन्ना को नमन

राजेश खन्ना की पुण्य तिथि पर आप को उनकी अभिनीत फिल्मों के कुछ गानों को आप के समक्ष पेश कर रहे हैं।

Published

on

दिवंगत अभिनेता और सांसद राजेश खन्ना नई दिल्ली लोक सभा सीट से पाँच वर्ष 1991-96 तक कांग्रेस पार्टी के सांसद रहे। बाद में उन्होंने राजनीति से सन्यास ले लिया। उन्होंने कुल 180 फ़िल्मों और 163 फीचर फ़िल्मों में काम किया, 128 फ़िल्मों में मुख्य भूमिका निभायी, 22 में दोहरी भूमिका के अतिरिक्त 17 छोटी फ़िल्मों में भी काम किया। तीन साल 1969-71 के अंदर 15 सालों से हिट फ़िल्मों में अभिनय करके बॉलीवुड का सुपरस्टार कहे जाने लगे। उन्हें फ़िल्मों में सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिये तीन बार फिल्म फेयर पुरस्कार मिला और 14 बार मनोनीत किया गया। बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा हिन्दी फ़िल्मों के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार भी अधिकतम चार बार उनके ही नाम रहा और 25 बार मनोनीत किया गया। 2005 में उन्हें फ़िल्मफेयर का लाइफटाइम अचीवमेण्ट अवार्ड दिया गया था ।

राजेश खन्ना हिन्दी सिनेमा के पहले सुपर स्टार थे। 1966 में उन्होंने आखिरी खत नामक फ़िल्म से अपने अभिनय की शुरुआत की। राज़, बहारों के सपने, उनकी कामयाब फ़िल्में रहीं और बहारों के सपने पूर्णतः असफल हुई। उन्होंने 1966-1991 में 74 स्वर्ण जयंती फ़िल्में की। वर्ष 1966 से 1991 में 22 रजत जयंती फ़िल्में की । उन्होंने 1966-1996 में 9 सामान्य हिट फ़िल्में की । उन्होंने 1966-2013 में 163 फ़िल्म में काम किया और 105 हिट रही 29 दिसम्बर 1942 को जन्में राजेश खन्ना का निधन 18 जुलाई 2012 को हुआ । आज राजेश खन्ना की पुण्य तिथि है। इस अवसर पर अक्षय कुमार अपनी फिल्ममिसन मंगल का ट्रेलर भी लॉन्च कर रहे हैं।

राजेश खन्ना की पुण्य तिथि पर आप को उनकी अभिनीत फिल्मों के कुछ गानों को आप के समक्ष पेश कर रहे हैं।

1. अलग-अलग (1985): “कभी बेकासी ने मारा…”

अलग-अलग फिल्म के इस गाने को 85 के देशक से लेकर आज 2019 तक लोग बड़े ही चाव से पसंद कर रहे हैं। इस गाने में किशोर कुमार की ज़ोरदार आवाज़ का जादू देखा जा सकता है। इस फिल्म में राजेश खन्ना के साथ-साथ टीना मुनीम को मुख्य भूमिका में देखा जा सकता है। इस फिल्म को आर. डी. बर्मन के द्वारा निर्देशित किया गया था।

2. अलग-अलग (1985): “दिल में आग लगाए सावन का महीना…”

 

3. प्रेम बंधन (1979): “मैं तेरे प्यार में पागल…”

 

प्रेम बंधन 1979 में रामानन्द सागर द्वारा निर्देशित हिन्दी फिल्म है। इसके प्रमुख कलाकार राजेश खन्ना, रेखा व मौसमी चटर्जी हैं और सहायक कलाकार हेलन, भगवान, कैस्टो मुखर्जी, ए. के. हंगल व ललिता पवार हैं। यह कथा राजेश खन्ना द्वारा अभिनीत पात्र की है जो अपनी स्मरणशक्ति खोये एक मछुअरी से विवाह करता है और शहर में प्रेमिका उसकी प्रतीक्षा करती है।

फिल्म के इस गीत में एक बार फिर किशोर कुमार की आवाज़ के जादू को सुना जा सकता है, अबकी बार उनके साथ लता मंगेशकर की सुनहरी आवाज को भी सुना जा सकता है।

4. सौतन (1983 ): “शायद मेरी शादी का खयाल…”

 

1983 में बनी फिल्म सौतन सुपर हिट रही। इसका निर्देशन और निर्माण सावन कुमार ने किया और इसमें मुख्य तौर पर राजेश खन्ना, पद्मिनी कोहलपुरे, टीना मुनीम, प्रेम चोपड़ा और प्राण को मुख्य अभिनय में देखा गया था। यह पारिवारिक फिल्म है और इसमें संगीत उषा खन्ना ने दिया है। गीत “शायद मेरी शादी का ख्याल…” विशेषकर लोकप्रिय हुआ था। जिसमें किशोर कुमार और लता मंगेशकर की सुनहरी आवाज़ का सुनहरा जादू था।

5. महबूबा (1976): “मेरे नैना सावन भादों..”

महबूबा 1976 में बानी हिट फिल्म है। यह फिल्म शक्ति सामंत द्वारा निर्देशित की गई है । फिल्म में राजेश खन्ना, हेमामा लिनी और प्रेम चोपड़ा मुख्य भूमिका में हैं। कहानी पुनर्जन्म पर आधारित है। संगीत राहुल देव बर्मन द्वारा रचित है। इस फिल्म को मुख्य जोड़ी द्वारा शानदार अभिनय और लता मंगेशकर के साथ किशोर कुमार द्वारा गाए गीत “मेरे नैना सावन भादों…” और “परबत के पीछे…” के लिए जाना जाता हैं।

>