Connect with us

ट्रेंडिंग

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर फिल्म जगत ने दी श्रद्धांजलि

वर्ष 1998 से लेकर 2015 तक लगातार तीन बार शीला दीक्षित ने दिल्ली की मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाला था।

Published at

on

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। पिछले कुछ समय से उनकी सेहत लगातार गिरती जा रही थी, सेहत खराब होता देख उन्हें एस्कॉर्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आईसीयू में दस दिनों तक इलाज़ चलने के बाद वह सोमवार को ही घर लौटी थीं, जहाँ आज उन्होंने अपने जीवन की आखिरी साँस ली। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री के निधन के बाद पूरे देशभर में सन्नाटा पसरा हुआ है और बॉलीवुड जगत भी उससे अछूता नहीं है। बॉलीवुड के दिग्गज सितारों ने भी शीला दीक्षित के निधन पर शोक ज़ाहिर किया है।

दिल्ली कांग्रेस में शीला दीक्षित एक बड़ा चेहरा थीं। उन्ही के नेतृत्व में कांग्रेस लगातार तीन बार दिल्ली में सरकार बनाने में कामयाब रही। वर्ष 1998 से लेकर 2015 तक लगातार तीन बार शीला दीक्षित ने दिल्ली की मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाला था। दिल्ली के राजनीतिक इतिहास में वह सबसे लम्बे समय तक मुख़्यमंत्री रहीं। शीला दीक्षित के निधन पर राहुल गाँधी ने कहा, “मैं यह खबर सुनकर बेहद दुखी हूँ, कांग्रेस पार्टी की सबसे प्यारी बेटी, जिनसे मेरी बेहद प्रिय थीं। मेरी उनके परिवार और दिल्ली के लोगों के प्रति संवेदना है, जिनकी सेवा हेतु वह लगातार तीन बार मुख्यमंत्री के पद पर रहीं।”

ट्रेंडिंग

कोलकाता नाइट राइडर्स ने अम्फान के संकट में बढ़ाया मदद का हाथ!

‘पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष’ : कोलकाता नाइट राइडर्स ने निधि में योगदान करने के लिए प्रतिबद्ध किया है।

Published at

on

कोलकाता नाइट राइडर्स ने मीर फाउंडेशन के साथ मिलकर अम्फान के बाद की लड़ाई के लिए सरकार के मौजूदा प्रयासों का समर्थन करने के लिए कई पहल की घोषणा की है।

‘पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष’ : कोलकाता नाइट राइडर्स ने निधि में योगदान करने के लिए प्रतिबद्ध किया है।

‘केकेआर सहायता वाहन’ : चक्रवात ने कई लोगों को बेघर कर दिया है और मूलभूत आवश्यकताओं से रहित है, ऐसे में केकेआर सहायता वाहन पहल पश्चिम बंगाल के कई स्थानों पर विशेष रूप से उपग्रह शहरों / जिलों में प्रभावित लोगों को आवश्यक किट वितरित करने में मदद करेगी।

‘वृक्षारोपण’ : जूही चावला मेहता के नेतृत्व में केकेआर प्लांट ए 6 अभियान, कोलकाता में पेड़ लगाने में वर्षों से लगातार काम कर रहा है। केकेआर ने उन 5000 पेड़ों को रोपने और फिर से भरने की प्रतिज्ञा ली है, जिन्हें समय-समय पर चक्रवात से नुकसान पहुंचा है।

केकेआर के सीईओ और एमडी, वेंकी मैसूर ने इन पहलों की घोषणा करते हुए कहा, “पश्चिम बंगाल राज्य और कोलकाता शहर कई मायनों में हमारे लिए खास रहा है। कोलकाता और पश्चिम बंगाल के लोगों ने केकेआर को गले से लगाया है और वर्षों से अपना प्यार और समर्थन देते आये है। यह प्रभावित लोगों को थोड़ी राहत प्रदान करने के लिए हमारी ओर से एक छोटा सा प्रयास है।”

इस तरह की ख़बरों के लिए सिने ब्लिट्ज के साथ बनें रहें https://cineblitz.in/hi/

Continue Reading

ट्रेंडिंग

रामायण 2008: क्रोधित भगवान लक्ष्मण के संवादों ने 200 क्रू सदस्यों को जोर से हसाया|

टेली टाउन में अपनी पहली भूमिका निभाते हुए, अंकित स्वाभाविक रूप से नर्वस थे !

Published at

on

टेलीविजन उद्योग में अंकित अरोरा (लक्ष्मण) के लिए शुरुआती दिन थे। टेली टाउन में अपनी पहली भूमिका निभाते हुए, अंकित स्वाभाविक रूप से नर्वस थे क्योंकि अभिनय में उनकी पृष्ठभूमि नहीं थी और किस्मत के चलते उन्हें लक्ष्मण की भूमिका मिली |

हालांकि, प्रत्येक एपिसोड और दृश्य के लिए पृष्ठभूमि कहानियाँ हैं, लेकिन उनमें से एक जो अनोखी है जब अंकित अरोरा को अपना पहला बड़ा संवाद देना था, जो तीन पेज का एक एकालाप था। सीता के स्वयंवर के दौरान, राजा जनक (सीता के पिता) के पास भावी दूल्हे के लिए एक भारी धनुष चुनने का कार्य था। हर कोई विफल रहा और उन्होंने कहा कि किसी के पास भी (राम सहित) ऐसा करने के लिए ताकत नहीं है। लक्ष्मण का क्रोधित चरित्र यह सुनकर परेशान हो जाते हैं और उन्हें जनक के बयान पर सवाल उठाने का जवाब देना पड़ता है। इस बयान के कारण लक्ष्मण क्रोधित हो जाते हैं और वह राजा से सवाल करना चाहते है |

उस घटना को याद करते हुए जो कल की तरह ताजा है, अंकित अरोरा ने कहा, “दृश्य में राजा जनक ने थोड़ा लंबा ब्रेक लिया और अपने संवाद को जारी रखने वाले थे, जब मुझे लगा कि 3 पेज के एकालाप को खत्म करने की मेरी बारी है। जैसे ही मैंने शुरू की, पूरी कास्ट और 200 लोगों के क्रू ने हँसना शुरू कर दिया और निर्देशक ने शॉट काट दिया । हंसी के लिए एक स्वाभाविक प्रतिक्रिया के रूप में मैं वास्तव में क्रोधित हो गया और सभी को चुप रहने के लिए कहा। अगले ही पल पिन ड्रॉप साइलेंस था। निर्देशक खुद एक क्रोधी स्वभाव के व्यक्ति भी चुप रहे और मुझे दूसरे शॉट के लिए आग्रह किया| मैंने तब एक शॉट में 3 पेज का मोनोलॉग सुनाया। लक्ष्मण का किरदार जो एक गुस्सैल नौजवान है, वह भूमिका के बाद मेरा दूसरा स्वभाव बन गया। शो की शूटिंग समाप्त होने के बाद मैंने भूमिका से बाहर निकलने के बाद एक बार फिर शांत व्यक्ति बन गया। ”

हर शाम 7.30 बजे वादों और विचारधाराओं की महागाथा रामायण देखें, और 9.30 बजे टेलीकास्ट दोहराएं  दंगल TV  पर.

इस तरह की ख़बरों के लिए सिने ब्लिट्ज के साथ बनें रहें https://cineblitz.in/hi/

Continue Reading

ट्रेंडिंग

आईएफटीपीसी और एफडब्ल्यूआईसीई ने शूटिंग शुरू करने को लेकर बैठक आयोजित की

फिल्म कामगारों के लिए 25 सूत्रीय गाइडलाइन पर प्रोडूसर्स सहमत

Published at

on

मुंबई,फिल्म एन्ड टीवी प्रोडूसर्स काउन्सिल (टीवी एन्ड वेब विंग) आईएफटीपीसी और  फेडरेशन ऑफ़ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) ने बुधवार को  एक वर्चुवल मीटिंग आयोजित कर फिल्म और टीवी धारावाहिको की शूटिंग फिर से शुरू किये जाने पर विचार विमर्श किया।बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन के कारण 17  मार्च 2020 से फिल्म और टीवी धारावाहिकों की शूटिंग बंद है। इससे हजारों लोग बेरोजगार होकर बैठे हैं और राजस्व की क्षति हुई है। इसी के साथ  एफडब्ल्यूआईसीई ने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता को लेकर एक 25 सूत्रीय  गाइडलाइन अपने कामगारों के लिए तैयार किया है।मीटिंग में  इन सभी मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई। प्रोडूसर्स इस गाइडलाइन के  सभी मुद्दों पर सहमत हुए हैं। इसमें कामगारों के लिए 50 लाख का  कोविड बिमा का भी समावेश है। प्रोड्यूसर्स बॉडी ने टेक्नीशियनों और कलाकारों के  ओवरड्यू भुगतानों को देने के लिए  एफडब्ल्यूआईसीई की मदद करने का भी वादा किया और कामगारों के पिछले बकाये का भुगतान करने का वादा किया है। आईएफटीपीसी ने एफडब्ल्यूआईसीई से डिफॉल्टरों की सूची जमा करने का अनुरोध किया।इस बैठक में फेडरेशन के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी ने कहा कि आईएफटीपीसी और एफडब्ल्यूआईसीई  का उद्देश्य शूटिंग को फिर से शुरू करना होगा।

आईएफटीपीसी की ओर से बैठक में जेडी मजेठिया, श्यामाशीष भट्टाचार्य, अभिमन्यु सिंह , नितिन वैद्य और एफडब्ल्यूआईसीई की ओर से प्रेसिडेंट बीएन तिवारी,जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे, ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव और मुख्य सलाहकार अशोक पंडित उपस्थित थे।

Continue Reading

Trending

>